top of page

अम्बे तू है जगदम्बे काली: माँ दुर्गा, माँ काली आरती | Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti Lyrics Hindi



अम्बे तू है जगदम्बे काली,

जय दुर्गे खप्पर वाली ।

तेरे ही गुण गाये भारती,

ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥


तेरे भक्त जनो पर,

भीर पडी है भारी माँ ।

दानव दल पर टूट पडो,

माँ करके सिंह सवारी ।

सौ-सौ सिंहो से बलशाली,

अष्ट भुजाओ वाली,

दुष्टो को पलमे संहारती ।

ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥


अम्बे तू है जगदम्बे काली,

जय दुर्गे खप्पर वाली ।

तेरे ही गुण गाये भारती,

ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥


माँ बेटे का है इस जग मे,

बडा ही निर्मल नाता ।

पूत - कपूत सुने है पर न,

माता सुनी कुमाता ॥

सब पे करूणा दरसाने वाली,

अमृत बरसाने वाली,

दुखियो के दुखडे निवारती ।

ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥


अम्बे तू है जगदम्बे काली,

जय दुर्गे खप्पर वाली ।

तेरे ही गुण गाये भारती,

ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥


नही मांगते धन और दौलत,

न चांदी न सोना माँ ।

हम तो मांगे माँ तेरे मन मे,

इक छोटा सा कोना ॥

सबकी बिगडी बनाने वाली,

लाज बचाने वाली,

सतियो के सत को सवांरती ।

ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥


अम्बे तू है जगदम्बे काली,

जय दुर्गे खप्पर वाली ।

तेरे ही गुण गाये भारती,

ओ मैया हम सब उतरें, तेरी आरती ॥



"अम्बे तू है जगदम्बे काली" मां दुर्गा और मां काली की प्रसिद्ध आरतियों में से एक है। यह आरती मां दुर्गा और मां काली की महिमा का गुणगान करती है और उनकी कृपा एवं आशीर्वाद को प्रार्थना करती है। इस आरती का गान उन भक्तों द्वारा किया जाता है जो मां दुर्गा और मां काली के भक्त होते हैं और उनकी पूजा करते हैं।





"Ambe Tu Hai Jagdambe Kali" is one of the famous aartis of Maa Durga and Maa Kali. This aarti glorifies the magnificence of Maa Durga and Maa Kali and seeks their blessings and grace. During the festival of Navratri, devotees sing this aarti with devotion and perform the puja of Maa Durga and Maa Kali. By singing this aarti, people receive the blessings of Maa Durga and Maa Kali.


Ambe tu hai jagdambe kali lyrics in hindi for Navratri & Mata ki Chowki.


अम्बे तू है जगदम्बे काली: माँ दुर्गा, माँ काली आरती | Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti Lyrics Hindi PDF Download



अम्बे तू है जगदम्बे काली- माँ दुर्गा, माँ काली आरती _ Ambe Tu Hai Jagdambe Kali Aarti Lyri
.
डाउनलोड करें • 160KB

11 दृश्य0 टिप्पणी
bottom of page